content-cover-image

भारत की यह अनोखी शादी, जब ट्रेन के सफ़र में बन गए हमसफ़र

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

भारत की यह अनोखी शादी, जब ट्रेन के सफ़र में बन गए हमसफ़र

शादी किसी भी इंसान के जीवन का एक ख़ास पड़ाव होता है. हमारे देश में तो शादी को बहुत मान्यता दी जाती है . और डेस्टिनेशन वेडिंग के ट्रेंड के चलते तो लोग अपनी शादी को यादगार बनाने के लिए लाखों-करोड़ों रुपए खर्च कर देते हैं। वेडिंग प्लानर को बुलवाते हैं और एक हटकर थीम वाली शादी करते हैं। लेकिन आप जानिए एक ऐसी शादी के बारे में जो सबसे हटकर है क्यूकि ये शादी संपन्न हुयी एक ट्रेन में. हाल ही में गोरखपुर से लखनऊ सफ़र कर रहे UP के सचिन कुमार और युवती ज्योत्स्ना पटेल ने ट्रेन में ही सात फेरे ले डाले। यह भारत की ऐसी पहली शादी है जो ट्रेन में हुई है और इस लिहाज से सचिन और ज्योत्सना ने इतिहास रच दिया है। सफर में हमसफर बनने वाले इस कपल की शादी में ट्रेन में सफर कर रहे यात्री बाराती बन गए और फिर ढोल-मजीरा, सितार की धुन और मंत्रोच्चार के साथ धूम-धाम से सभी ने शादी की खुशियां मनाईं। वहीँ साथ में सफ़र कर रहे आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर जी ने इस शादी में पंडित की अहम् भूमिका निभाई . इतना ही नहीं बल्कि ट्रेन को फूलों से किसी मंडप की तरह सजा दिया गया था। शादी के बाद दुल्हन ज्योत्सना ने ख़ुशी जताते हुए लोंगो को आभार प्रकट किया और बताया की 18 अप्रैल को एक बार फिर से उनका विवाह पूरे रीति-रिवाज के साथ होगा। ये एक अच्छी बात है की 2017 में कर्नाटक राज्य पर्यटन विकास निगम यानी केएसटीडीसी ने आम जनता के लिए ट्रेन यात्रा के दौरान शादी करने के लिए एक विशेष सेवा शुरू की थी। मगर अभी तक इस विशेष सेवा के तहत किसी ने शादी नहीं की है।

Show more
content-cover-image
भारत की यह अनोखी शादी, जब ट्रेन के सफ़र में बन गए हमसफ़रबॉलीवुड के किस्से