content-cover-image

जब संकट में आया 700 साल पुराना बरगद का पेड़, तब ड्रिप चढ़ाकर ऐसे किया गया इलाज

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

जब संकट में आया 700 साल पुराना बरगद का पेड़, तब ड्रिप चढ़ाकर ऐसे किया गया इलाज

तेलंगाना के महबूब नगर जिले में 700 साल पुराने बरगद के पेड़ को बचाने की जद्दोजहद तेजी से चल रही है। दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा पेड़ कहे जा रहे इस पेड़ का जीवन संकट में है। इसे बचाने के लिए वनस्पति विज्ञानी केमिकल की ड्रिप चढ़ा रहे हैं। दरअसल, इसकी शाखाओं में कीड़े लग चुके हैं जो इसे अंदर से खाए जा रहे हैं। ऐसे में कीटनाशक केमिकल से भरी सैकड़ों बोतलें पेड़ पर लटकाई गई हैं। इंजेक्शन के जरिए इस केमिकल को शाखाओं और तनों में पहुंचाया जा रहा है. सैकड़ों साल पुराना यह पेड़ महबूब नगर के पिल्लालामर्री या पीरला मर्री इलाके में है। यह पेड़ तीन एकड़ जमीन पर फैला हुआ है। इस पेड़ की लोकप्रियता इतनी ज्यादा है कि इसे देखने के लिए दूर-दूर से सैलानी आते हैं। लेकिन पेड़ की सेहत खराब होने कारण दिसंबर से पर्यटकों की एंट्री बंद कर दी गई है। स्थानीय जानकारों के अनुसार, कीड़ों से प्रभावित होने के कारण इसी शाखाएं अचानक टूटकर गिर रही थीं जिससे यहां लोगों को आने से मना कर दिया गया था। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पेड़ को कीड़ों से बचाने के लिए इसकी शाखाओं में हर दो मीटर की दूरी पर एक ड्रिप लगाई गई हैं। इसे देखकर ऐसा लगता है कि जैसे अस्पताल में किसी आदमी का इलाज किया जा रहा हो।

Show more
content-cover-image
जब संकट में आया 700 साल पुराना बरगद का पेड़, तब ड्रिप चढ़ाकर ऐसे किया गया इलाजबॉलीवुड के किस्से