content-cover-image
भारत सहित इन देशों में ऐसा है लिव-इन-रिलेशनशिप का हाल बॉलीवुड के किस्से
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

भारत सहित इन देशों में ऐसा है लिव-इन-रिलेशनशिप का हाल
लिव-इन-रिलेशनशिप को लेकर कई तरह के कंफ्यूजन लंबे समय से लोगों के बीच मौजूद थे। लेकिन अब न्यायालय ने इस विषय पर अपना मत स्पष्ट कर दिया है। जी हां, सुप्रीम कोर्ट के अनुसार यदि कोई लड़का शादी की मान्य उम्र यानी 21 साल से पहले लिव-इन में रहना चाहता है तो वो ऐसा कर सकता है। भारत में तो लिव-इन-रिलेशनशिप को हरी झंडी मिल गई है लेकिन आज भी ऐसे कई देश हैं जहां पर लिव-इन को अपनाया नहीं गया है। वहीं कुछ देश ऐसे भी हैं जहां पर इसका चलन सालों से है। 1960 से पहले अमेरिका में लिव-इन-रिलेशनशिप लगभग असंभव था। लेकिन इसके बाद लिव-इन को लेकर यहां के हालातों में काफी सुधार आया था। आज यह बात अमेरिका में बहुत आम हो चुकी है। रूस में कई कपल लिव-इन में रहना पसंद करते हैं। लेकिन दूसरे देशों से हटकर यहां पर लिव-इन के बाद शादी करने की मान्यता है। यूरोप के कई क्षेत्रों में लिव-इन-रिलेशन बहुत ही सामान्य है। यहां सिर्फ युवा कपल ही नहीं बल्कि हर उम्र के लोग लिव-इन में रहते हैं। यहां पर 1926 के बाद से लिव-इन-रिलेशनशिप को खुले तौर पर अपनाना शुरू कर दिया था। वहीँ, नेपाल में शादी के बिना साथ रहना किसी भी रूप में मान्य नहीं है। बांग्लादेश में भी लिव-इन-रिलेशन को गलत माना जाता है। यहां पर बिना शादी के साथ रहना सामाजिक और कानूनी दोनों ही तौर पर अमान्य है. इसी के साथ इंडोनेशिया और पोलैंड जैसे देशों में में भी लिव-इन पूरी तरह से अमान्य है। आपको अंदाजा हो ही गया होगा कि दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में आज भी लिव-इन-रिलेशनशिप की कहानी एक-दूसरे से काफी जुदा है। नीचे दिए गए टिप्पड़ी बटन को दबाकर , लिव-इन-रिलेशनशिप के बारे में आपकी क्या राय है, ये हमे कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं.
Show more
content-cover-image
भारत सहित इन देशों में ऐसा है लिव-इन-रिलेशनशिप का हाल बॉलीवुड के किस्से