content-cover-image

डेडपूल 2 : मूवी रिव्यू

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

डेडपूल 2 : मूवी रिव्यू

सुपरहीरोज़ बोर भी करने लगे थे। उनकी कहानियां एक-सी होने लगी थी और इनके बीच डेडपूल ने थोड़ी ताजगी प्रदान की। डेडपूल को दर्शकों ने हाथों हाथ लिया और इसका दूसरा भाग 'डेडपूल 2' नाम से आया है। हालांकि इसे एक्समैन सीरिज़ की 11वीं फिल्म भी कहा जाता है क्योंकि डेडपूल भी एक ट्रेनी एक्समैन है। डेडपूल 2 पहली फ्रेम से दर्शकों को तैयार कर देती है कि आप अगले दो घंटे तक कैसी फिल्म देखने वाले हैं। फिल्म की शुरुआत धमाकेदार है जब डेडपूल और उसकी प्रेमिका कुछ सपने देखते हैं, लेकिन ये जल्दी ही ध्वस्त हो जाते हैं। इसके बाद कहानी अलग-अलग मोड़ लेती है जिसमें एक्शन, कॉमेडी के साथ इमोशन के लिए भी जगह बनाई गई है। बीच में जरूर फिल्म थम-सी जाती है, लेकिन फिर यह फिल्म रफ्तार पकड़ लेती है। फिल्म की कहानी बहुत दमदार नही हैं, लेकिन इसे देखने लायक बनाते हैं इसके किरदार। कहानी पर किरदार भारी पड़ते हैं क्योंकि हर किरदार मजेदार है जो लगातार मनोरंजन करता है। डेडपूल 2 खुद को गंभीरता से नहीं लेता, हर बात मजाक में उड़ाता है, खुद पर भी हंसता है, इसलिए दर्शक भी हर बात को गंभीरता से नहीं लेते हैं और परदे पर दिखाए जा रहे हर घटनाक्रम को मजा लेते हैं। यही फिल्म की सबसे बड़ी खासियत है। निर्देशक डेविड लीच इस बात की आड़ में कई ऐसे प्रसंग डाल देते हैं जिन पर विश्वास करना कठिन है। एक्शन फिल्म का प्लस पाइंट है। लगातार एक्शन सीन बीच-बीच में आकर फिल्म का स्तर ऊंचा उठाते रहते हैं। डेडपूल 2 का सबसे मजबूत पक्ष इसके डायलॉग्स हैं। जिसने भी इसके हिंदी संवाद लिखे हैं उसने फिल्म को भारतीय रंग में रंग दिया है। हिंदी वर्जन में रणवीर सिंह ने डेडपूल को अपनी आवाज दी है और उनका काम किसी हीरो से कम नहीं है। फिल्म के सारे कलाकारों का अभिनय जोरदार है। रयान रेनॉल्ड्स ने डेडपूल के किरदार को शानदार तरीके से जिया है। जोश ब्रोलिन ने केबल का किरदार निभाकर फिल्म को शक्तिशाली किया है। मोरेना बैक्करीन ने वनेसा के रोल के जरिये फिल्म को नजाकत दी है। करण सोनी, जूलियन डेनिसन सहित अन्य कलाकार भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हैं। deadpool 2 को हम देते हैं 5 में से 3 रेटिंग.

Show more
content-cover-image
डेडपूल 2 : मूवी रिव्यूबॉलीवुड के किस्से