content-cover-image
घर वालों को बूंद-बूंद को तरसता देख 70 साल के बुजुर्ग ने किया कमालबॉलीवुड के किस्से
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

घर वालों को बूंद-बूंद को तरसता देख 70 साल के बुजुर्ग ने किया कमाल
एक व्यक्ति अपने जुनून और जज्बे से पहाड़ को भी चीर देता है. बिहार के रहने वाले दशरथ मांझी ने 'माउंटन मैन' बनकर इसे साबित कर दिया था. मांझी की तरह ही अपने इरादे को पूरा करने की जिद रखने वाले एक 70 साल के बुजुर्ग शख्स ने अपने परिवार को पानी की किल्लत से बचाने के लिए असंभव को भी संभव कर दिया. जी हां, छतरपुर के रहने वाले 70 वर्षीय सीताराम राजपूत ने पानी की समस्या से जूझते अपने परिवार और गांव के लिए अकेले ही कुआं खोद दिया. आपको बता दें कि छतरपुर जिले को बुंदेलखंड इलाके में आने वाला सूखा प्रभावित जिला माना जाता है. इस क्षेत्र में पानी की समस्या के कारण पलायन अपने चरम पर है. यहां लोगों को पीने का पानी भी मुश्किल से मिलता है, तो खेती के लिए पानी का इंतजाम करना बड़ी समस्या थी. सीताराम ने बताया कि उन्होंने 2015 में कुआं खोदने का काम शुरू किया था और 2017 में कुएं की खुदाई का काम पूरा कर लिया.
Show more
content-cover-image
घर वालों को बूंद-बूंद को तरसता देख 70 साल के बुजुर्ग ने किया कमालबॉलीवुड के किस्से