content-cover-image

धरती से दूर हो रहा है चंद्रमा, जानिए क्या होगा इसका असर

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

धरती से दूर हो रहा है चंद्रमा, जानिए क्या होगा इसका असर

चंद्रमा के पृथ्वी से दूर जाने के कारण हमारे ग्रह पर दिन लंबे होते जा रहे हैं. एक अध्ययन में यह बात सामने आयी है कि 1.4 अरब वर्ष पहले धरती पर एक दिन महज 18 घंटे का होता था. पत्रिका प्रोसिडिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज में प्रकाशित यह अध्यन चंद्रमा से हमारे ग्रह के रिश्ते के गहरे इतिहास को पुन स्थापित करता है. इसमें पाया गया कि 1.4 अरब वर्ष पहले चंद्रमा पृथ्वी के ज्यादा करीब था और उसने पृथ्वी के अपनी धूरी के चारों ओर घूमने के तरीके को बदला. ब्रह्मांड में पृथ्वी की गति अन्य ग्रहों से प्रभावित होती है जो उस पर बल डालते हैं जैसे कि अन्य ग्रह और चंद्रमा. वैज्ञानिकों ने लाखों वर्षों की अवधि में पृथ्वी की इस गति का अवलोकन किया और इससे वह पृथ्वी तथा चंद्रमा के बीच की दूरी और दिन के घंटों का पता लगा पाए. शोधकर्ताओं का कहना है कि चांद की सतह के नीच अंदरूनी हिस्से में बड़ी मात्रा में पानी हो सकता है. प्रकाशित शोध में कहा गया है कि चंद्रमा की ऊपरी सतह और अंदरूनी हिस्से के बीच में पर्याप्त मात्रा में पानी है. शोध के प्रमुख लेखक रॉल्फ मिलिकेन ने कहा कि चंद्रमा पर पानी के पाए जाने के पहले के निष्कर्षो में आंतरिक स्रोतों से पानी होने का पता नहीं चलता है.

Show more

content-cover-image
धरती से दूर हो रहा है चंद्रमा, जानिए क्या होगा इसका असरबॉलीवुड के किस्से