content-cover-image

पैदल चलने से तेज़ बनता है दिमाग जानिये कैसे

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

पैदल चलने से तेज़ बनता है दिमाग जानिये कैसे

आज की इस सुख -सुविधापूर्ण जिंदगी में लोगों ने शारीरिक मेहनत करना कम कर दिया है तथा हर जगह किसी ना किसी विकल्प के सहारे मेहनत करने से बचना चाहते हैं। और ये बचाव ही उनके शरीर के लिए बहुत नुकसानदायक है। क्योंकि शरीर के सही संचालन के लिए खून का परिसंचरण सही तरीके से होना जरुरी है। और यह तभी संभव है जब शरीर से मेहनत की जाए। खून के सही परिसंचरण के कारण ही हमारा दिमाग भी सही काम करता है क्योकि खून का काम है शरीर के विभिन्न भागों में ऑक्सीजन पहुंचाना। जोकि दिमाग के लिए भी बहुत ज्यादा जरुरी है। एक रिसर्च के मुताबिक रोज़ाना कम से कम 30 मिनट तक पैदल चलने से हमारे दिमाग की इंटेलीजेंसी बढ़ती है। इसका कारण खून का सही परिसंचरण ही है जोकि उचित ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। ऑक्सीजन की सही मात्रा इसको सही रास्ते में कार्यशील बनाये रखती है। और हमे किसी प्रकार का दर्द महसूस नहीं होता है। अतः हर रोज कम से कम हमे 30 मिनट पैदल चलना चाहिए।

Show more

content-cover-image
पैदल चलने से तेज़ बनता है दिमाग जानिये कैसेबॉलीवुड के किस्से