content-cover-image

जानिए कंही आप भी तो नहीं है किसी फोबिया के शिकार..

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

जानिए कंही आप भी तो नहीं है किसी फोबिया के शिकार..

वैसे तो फोबिया जैसी कोई चीज़ नहीं होती है पर लोगों में इस तरह के भ्रम है की उन्हें किसी न किसी चीज़ का डर है। लेकिन यह सब दरअसल लोंगो का वहम होता है। फोबिया किसी भी तरह का हो सकता है। किसी वस्तु से लेकर एक आईने तक फोबिया हो सकता है। हर इंसान किसी न किसी चीज़ से डरता है और लोग उसे फोबिया का नाम दे देता है। इनमे से एक है एरेकनोफोबिया , मकड़ी से डर का ये फोबिया बहुत आम है और एक सर्वे के मुताबिक अमेरिका के एक तिहाई लोग इसका शिकार हैं . हालांकि मकड़ी की 40,000 में से केवल 20 ही प्रजातियां इंसान को नुकसान पहुंचाने लायक जहरीली होती हैं। वहीँ एगोराफोबिया एक ऐसा फोबिया है जिसमे लोगों को खुली जगह और भीड़ भाड़ दोनों से डर लगता है। किसी खुले खेत में जा कर उन्हें लग सकता है कि वे वहां खो जाएंगे और कभी बाहर नहीं आ सकेंगे। ऐसे लोग अक्सर डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा एक और फोबिया है , मायजोफोबिया या कीटाणुओं का डर। ऐसे लोग बार बार नहाते हैं, अपने हाथ धोते हैं, सैनिटाइजर लगाते हैं, लोगों से हाथ मिलाने से कतराते हैं। इस तरह के लोगों को अक्सर ओसीडी यानि ऑब्सेसिव कम्पल्जिव डिसऑर्डर भी होता है। एक अनोखा सा फोबिया भी है जिसे त्रिसकेडेकाफोबिया कहते हैं. इसमें इंसान को नंबर 13 से डर होता है । बहुत लोग 13 नंबर को अशुभ मानते हैं। दुनिया के कई मशहूर लेखक और संगीतकार भी इससे डरते रहे है। यहां तक कि कई इमारतों में तो इस डर के कारण 13वां माला ही नहीं होता। यदि आपको ये जानकारी रोचक लगी तो निचे दिए शेयर बटन को दबाकर इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें.

Show more
content-cover-image
जानिए कंही आप भी तो नहीं है किसी फोबिया के शिकार..बॉलीवुड के किस्से