content-cover-image

प्रेम प्रसंग के चलते पहले भी अपराधी बने हैं सेना के अधिकारी, जानें ये प्रेम कहानियां

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

प्रेम प्रसंग के चलते पहले भी अपराधी बने हैं सेना के अधिकारी, जानें ये प्रेम कहानियां

दिल्ली में एकतरफा प्यार के मामले में साथी अधिकारी की पत्नी शैलजा द्विवेदी की हत्या के आरोप में सेना के एक मेजर की गिरफ्तारी भारतीय सशस्त्र बलों के इतिहास में पहला ऐसा मामला नहीं है जो उनके कथित अनुचित आचरण से जुड़ा है. इससे पहले भी अलग-अलग वक्त में इस तरह के कई मामले सुर्खियों में आए हैं. शैलजा हत्याकांड से भी पहले ऐसे कई ऐसे चर्चित मामले हुए हैं जिनमें आर्मी के अधिकारियों ने प्रेम प्रसंग के चलते हथियार उठाए हैं. 1959 का नानावती मामला और 1982 में हुआ सिंकद हत्याकांड तो अपने समय के चर्चित काण्ड रहे हैं. इसी के साथ 2007 में कैप्टन मेघा राजदान की मौत का मामला , 2008 नीरज ग्रोवर हत्या मामला और 2018 का हाल ही में हुआ मेजर की पत्नी की हत्या का मामला सबसे ज्यादा सुर्ख़ियों में आये हैं. आपको बता दें कि अमृतसर की रहने वाली शैलजा मिसेज अर्थ प्रतियोगिता जीत चुकी थी. 23 जून को उसकी हत्या हुई थी, इससे एक दिन पहले यानी 22 जून को उसने फेसबुक पर अपनी आखिरी पोस्ट किया था . इसमें उन्होंने लिखा था कि ... 'जब आपकी जिंदगी में काफी रंग भरे हों, फिर भी आपको यह याद रहना चाहिए कि चीजें ब्लैक एंड व्हाइट हो सकती हैं..' इसके साथ ही शैलजा ने एक फोटो भी शेयर की थी.

Show more

content-cover-image
प्रेम प्रसंग के चलते पहले भी अपराधी बने हैं सेना के अधिकारी, जानें ये प्रेम कहानियांबॉलीवुड के किस्से