content-cover-image

Review : हंसी-ठहाकों से सजी रिश्तों की यात्रा है 'कारवां'

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Review : हंसी-ठहाकों से सजी रिश्तों की यात्रा है 'कारवां'

डायरेक्टर आकर्ष खुराना लम्बे समय से थिएटर से जुड़े हुए हैं और हाल ही में उन्होंने 'हाई जैक' बनाई थी, जिसे बॉक्स ऑफिस पर खास रिस्पॉन्स नहीं मिला, लेकिन जब उनकी फिल्म कारवां का ट्रेलर रिलीज किया गया, तब से लेकर अभी तक फिल्म को देखने के लिए दर्शकों का उत्साह देखते बन रहा है. फिल्म की कहानी अविनाश (दुलकर सलमान ) को आई एक फ़ोन कॉल से शुरू होती है , जहां उसे बताया जाता है कि उसके पिताजी की डेथ हो गई है और कोरियर कंपनी की तरफ से किसी और की डेड बॉडी अविनाश को दे दी जाती है और फिर वह अपने पिता की डेड बॉडी की तलाश में अपने दोस्त शौकत (इरफ़ान) के साथ निकल पड़ता है, फिर इस कारवां में तान्या (मिथिला पालकर) की एंट्री होती है, यात्रा कई जगहों से गुजरते हुए ट्विस्ट और टर्न्स के साथ आगे बढ़ती है, अब क्या अविनाश को सही बॉडी मिल पाती है, कहानी में आगे क्या होता है, और इस तरह पूरी यात्रा के दौरान अविनाश, तान्या और शौकत के रिश्तों का ताना-बाना बुना जाता है, ये सब कुछ जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी.

Show more
content-cover-image
Review : हंसी-ठहाकों से सजी रिश्तों की यात्रा है 'कारवां'बॉलीवुड के किस्से