content-cover-image

"तुम्हारी ज़ुल्फ़ के साये"--ख़ालिद आज़मी

कविताएं और शायरी

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

"तुम्हारी ज़ुल्फ़ के साये"--ख़ालिद आज़मी

"तुम्हारी ज़ुल्फ़ के साये"--ख़ालिद आज़मी

Show more

content-cover-image
"तुम्हारी ज़ुल्फ़ के साये"--ख़ालिद आज़मीकविताएं और शायरी