content-cover-image

हर बात की जिसका ख्याल रक्खा उसी ने बाप को घर से निकाल रक्खा है |

Namokar Poetry

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

हर बात की जिसका ख्याल रक्खा उसी ने बाप को घर से निकाल रक्खा है |

हर बात की जिसका ख्याल रक्खा उसी ने बाप को घर से निकाल रक्खा है |

Show more
content-cover-image
हर बात की जिसका ख्याल रक्खा उसी ने बाप को घर से निकाल रक्खा है |Namokar Poetry