content-cover-image

देखो पलट न जाए तुम जिसपे हस रहे हो वो तुम्ही पे हंस के जाए

Namokar Poetry

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

देखो पलट न जाए तुम जिसपे हस रहे हो वो तुम्ही पे हंस के जाए

देखो पलट न जाए तुम जिसपे हस रहे हो वो तुम्ही पे हंस के जाए

Show more
content-cover-image
देखो पलट न जाए तुम जिसपे हस रहे हो वो तुम्ही पे हंस के जाएNamokar Poetry