content-cover-image

आजाद भारत में पहली बार होगी ओबीसी की जनगणना

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

आजाद भारत में पहली बार होगी ओबीसी की जनगणना

2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों के मद्देनजर जनगणना 2021 में केंद्र सरकार ने अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के आंकड़े एकत्रित करने का फैसला लिया है. आजाद भारत में यह पहला मौका होगा जब देश में ओबीसी वर्ग के आंकड़ों को जुटाया जाएगा. इससे पहले 1931 की जनगणना में आखिरी बार एकत्रित किए गए जातिगत आंकड़ों के आधार पर तैयार की गई मंडल आयोग की सिफारिशों पर तत्त्कालीन वी पी सिंह सरकार ने ओबीसी के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की थी. गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि जनगणना 2021 तीन वर्षों में पूरी हो जाएगी. शुक्रवार (31 अगस्त) की समीक्षा बैठक में गृह मंत्री ने इसके रोडमैप पर चर्चा की. इस बात पर जोर दिया गया कि डिजाइन और तकनीकी चीजों में सुधार पर जोर दिया जाए ताकि जनगणना करने के तीन साल के भीतर आंकड़ों को अंतिम रूप दे दिया जाए.

Show more

content-cover-image
आजाद भारत में पहली बार होगी ओबीसी की जनगणनामुख्य खबरें