content-cover-image
क्या बात है ! भारत में विदेशी बैंक की यह नायाब पहल

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

क्या बात है ! भारत में विदेशी बैंक की यह नायाब पहल

आइपीसी की धारा 377 समाप्त किये जाने के एक दिन के अंदर भारत में काम कर रही रॉयल बैंक ऑफ़ स्कॉटलैंड ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए अपने कर्मचारियों के समलैंगिक पार्टनर्स के लिए भी मेडिकल HOSPITALISATION की सुविधा दिए जाने की घोषणा की है। इस तरह RBS भारत में इस तरह का कदम उठाने वाली अग्रणी कंपनियों में आ गयी है। कंपनी की HUMAN RESOURCE की MANAGING DIRECTOR अनुरंजिता कुमार ने यह महत्वपूर्ण निर्णय की घोषणा करते हुए बताया कि उनकी कंपनी में LGBT कर्मचारियों को अन्य कर्मचारियों की तरह बिना किसी भेदभाव के EMPLOYMENT के सामान अवसर दिए जाते हैं। वैसे भी , RBS अपने कर्मचारियों को 8 लाख रूपए की हेल्थ INSURANCE देती है जिसमे उनके जीवनसाथी के अलावा उनके बच्चों और वृद्ध माता-पिता भी शामिल हैं।

Show more
content-cover-image
क्या बात है ! भारत में विदेशी बैंक की यह नायाब पहलमुख्य खबरें