content-cover-image

कांग्रेस अब अपनी सबसे बड़ी 'दुश्मन' पार्टी से करेगी दोस्ती

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

कांग्रेस अब अपनी सबसे बड़ी 'दुश्मन' पार्टी से करेगी दोस्ती

कांग्रेस अगले लोकसभा चुनाव में जीत के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है । बीजेपी को रोकने कें लिए किसी भी पार्टी से हाथ मिलाने में उसे गुरेज नहीं है । कई राज्यों में तो वह इसके लिए अपनी जमीन भी छोड़ने के लिए तैयार दीखती है। ऐसा ही हाल तेलंगाना में है। कभी आंध्र प्रदेश में सालों हुकूमत करने वाली कांग्रेस यहां अब इतनी कमजोर हो चुकी है, कि अब वह यहां अपनी सबसे प्रतद्वंद्वी पार्टी टीडीपी से भी हाथ मिलाने के लिए तैयार है। तेलंगाना में उसे उम्मीद थी कि वह यहां पर अच्छा प्रदर्शन करेगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। सत्ता में के चंद्रशेखर राव की पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति है। हालांकि केसीआर ने विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर दी है, ऐसे में वहां पर समय पूर्व चुनाव होने की संभावना है। इस राज्य में कांग्रेस के साथ साथ टीडीपी भी कमजोर है। बीजेपी के साथ गठबंधन टूटने के बाद अब टीडीपी इस राज्य में भी अपने आपको मजबूत करना चाहती है, लेकिन तेलंगाना विरोध के कारण उसके लिए हालात सही नहीं हैं। ऐसे में वह भी कांग्रेस के साथ जाने का मन बना रही है। सभी जानते हैं कि आंध्रप्रदेश में एनटी रामाराव ने कांग्रेस का विरोध करते हुए ही तेलुगुदेशम पार्टी की स्थापना की और पहला ही चुनाव जीतकर सीएम बन गए। उनके बाद इस पार्टी पर उनके दामाद एन चंद्रबाबू नायडू ने कब्जा जमा लिया। एनटीआर की बेटी डी पुरुंदेश्वरी पहले कांग्रेस सांसद रहीं, 2014 में वह बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ीं, लेकिन हार गईं।

Show more
content-cover-image
कांग्रेस अब अपनी सबसे बड़ी 'दुश्मन' पार्टी से करेगी दोस्तीमुख्य खबरें