content-cover-image
हैदराबाद दोहरे बम धमाके में दो आतंकियों को फांसीमुख्य खबरें
00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

हैदराबाद दोहरे बम धमाके में दो आतंकियों को फांसी
हैदराबाद में 25 अगस्त, 2007 को एक रेस्त्रां ‘गोकुल चाट’ और लुम्बिनी पार्क में स्थित एक ओपन एयर थियेटर में दो बम धमाके हुए थे, जिनमें 44 लोग मारे गए थे और 68 घायल हुए थे. द्वितीय अतिरिक्त मेट्रोपॉलिटन सत्र न्यायालय के न्यायाधीश (प्रभारी) टी श्रीनिवास राव ने चार सितंबर को 11 साल पुराने मामले में अनीक शफीक सैयद और मोहम्मद अकबर इस्माइल चौधरी को दोषी ठहराया था, लेकिन पर्याप्त सबूत ना होने के कारण फारूक शरफुद्दीन तर्कश और मोहम्मद सादिक इसरार अहमद शैक को बरी कर दिया था. सरकारी अभियोजक के सुरेंद्र ने कहा कि सैयद और चौधरी को आईपीसी की धारा 302 (हत्या) एवं दूसरी संबंधित धाराओं और आतंकवाद रोधी कानून - गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत दोषी पाया गया था. अदालत ने दोनों पर अलग-अलग मामलों में दस-दस हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया. अदालत ने पांचवें आरोपी तारिक अंजुम को सोमवार को दोषी ठहराया और उम्रकैद की सजा दी. उस पर नई दिल्ली और दूसरी जगहों में कुछ गुनाहगारों को पनाह देने का आरोप था.
Show more
content-cover-image
हैदराबाद दोहरे बम धमाके में दो आतंकियों को फांसीमुख्य खबरें