content-cover-image
मोहर्रम छोड़ ,ममता आईं मां की शरण में

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मोहर्रम छोड़ ,ममता आईं मां की शरण में

पिछले दो साल से दुर्गापूजा विर्सजन और मोहर्रम की तारीख एक पड रही थी । तब पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने मूर्ति विर्सजन के समय को प्रतिबंधित कर दिया था । इसलिए कि नजर मुस्लिम वोट बैंक पर थी । इससे पश्चिम बंगाल के लोगों में काफी नाराजगी भी थी । अब लोकसभा चुनाव नजदीक है और ऐसे में लगता है कि ममता बनर्जी जनता को लुभाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ने वालीं। इसके लिए बंगाल में दुर्गा पूजा के अवसर पर उपहार देने से बढ़िया तरीका क्या हो सकता है? उन्होंने दुर्गा पूजा पंडालों और कई संस्थाओं को कुल मिलाकर 28 करोड़ रुपये देने का ऐलान किया है। यही नहीं, उन्होंने दुर्गा पूजा समिति के लिए समर्पित एक थीम गीत भी लिखा है। ममता बनर्जी ने दुर्गा पूजा को सिर्फ बंगाल का गौरव ही नहीं, बल्कि वैश्विक उत्सव बताया। उन्होंने कहा, लंदन के टेम्स नदी के किनारे भी पूजा पर एक प्रदर्शनी आयोजित होती है। पूजा अब विश्व मेला बन चुका है। उन्होंने पूजा पंडालों को कुल मिलाकर 28 करोड़ रुपये की सहायता देने का भी ऐलान किया। कोलकाता में करीब 3000 पूजा पंडाल हैं और सभी गांवों में कुल मिलाकर 25,000 होंगे। कोलकाता नगर निगम के हर पूजा पंडाल को 10 हजार रुपये दिए जाएंगे। इसी तरह पर्यटन विभाग, उपभोक्ता मामलों के विभाग, स्वयं सहायता समूहों को भी 10-10 हजार रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि 21 अक्टूबर को विसर्जन होगा और 23 अक्टूबर को कोलकाता के रेड रोड पर एक कार्निवाल होगा।

Show more
content-cover-image
मोहर्रम छोड़ ,ममता आईं मां की शरण में मुख्य खबरें