content-cover-image
एससी ने दागी सांसदों,विधायकों के मुकदमें के बारे में मांगी जानकारी

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

एससी ने दागी सांसदों,विधायकों के मुकदमें के बारे में मांगी जानकारी

दागी सांसदों और विधायकों के खिलाफ लंबित अपराधिक मामलों की सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट बनाए जाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों के मुख्य सचिव और सम्बंधित हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल से पूछा है कि उनके यहां सांसद और विधायक के खिलाफ कितने आपराधिक मुकदमें लंबित है और क्या इन सभी मुकदमों को सुप्रीम कोर्ट के दिए पुराने फैसले के मुताबिक स्पेशल कोर्ट को ट्रांसफर किया जा चुका है। अभी तक 11 राज्यों से जानकारी आई हैं। आंध्र प्रदेश बिहार, बंगाल, कर्नाटक, केरल, एमपी, यूपी, तेलंगाना जैसे 10 राज्यों में 1-1 विशेष कोर्ट बने है। दिल्ली में 2 विशेष कोर्ट काम कर रहे हैं। मामले की अगली सुनवाई 12 अक्टूबर को होगी। मंगलवार को केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर बताया था कि अभी तक दिल्ली समेत 11 राज्यों से मिले आंकड़ों के मुताबिक फिलहाल सांसदों और विधायकों के खिलाफ 1233 केस 12 स्पेशल फास्ट ट्रेक कोर्ट में ट्रांसफर किए गए हैं और 136 केसों का निपटारा किया गया है जबकि 1097 मामले अदालतों में लंबित हैं। बिहार में सांसदों और विधायकों के खिलाफ सबसे ज्यादा 249 आपराधिक मामले लंबित हैं। इसके बाद केरल में 233 और पश्चिम बंगाल में 226 केस लंबित हैं। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने दागी सांसदों, विधायकों के खिलाफ लंबित मामलों की सुनवाई के लिए 12 स्पेशल कोर्ट के लिए केंद्र सरकार की योजना को मंजूरी दे दी थी।

Show more
content-cover-image
एससी ने दागी सांसदों,विधायकों के मुकदमें के बारे में मांगी जानकारी मुख्य खबरें