content-cover-image

मोदी की सरकार ने इस तरह बचाया माल्या को

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मोदी की सरकार ने इस तरह बचाया माल्या को

केंद्र सरकार पर यह आरोप लगाया जा रहा है कि उसने हजारों करोड़ों रुपए लेकर फरार चल रहे शराब कारोबारी विजय माल्या के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर को हल्का बना दिया जिससे उसे विदेश भागने में आसानी हुई। इस बारे में खुद बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने एक ट्वीट किया है। जिससे ये सच लग रहा है कि विजय माल्या को वित्त मंत्री अरूण जेटली ने भागने में मदद की । सरकारी सूत्रों के अनुसार विजय माल्या के लुकआउट नोटिस को हल्का करके कहा गया कि अगर वह विदेश जाता है तो उसे पकड़ा न जाए बल्कि सिर्फ इसकी जानकारी दी जाए। सीबीआई ने 16 अक्टूबर, 2015 को सरकार से यह अनुरोध किया था कि माल्या के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया जाए। एजेंसी ने ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन से अनुरोध किया था कि माल्या यदि देश छोड़ने की कोशिश करता है तो उसे पकड़ लिया जाए लेकिन एक महीने बाद ही नवंबर महीने में सीबीआई ने एक संशोधित सर्कुलर जारी करने को कहा जिसमें इमिग्रेशन ब्यूरो से कहा गया कि वह सिर्फ 'माल्या के विदेश जाने और यात्रा के प्लान के बारे में सूचित करे। इसके बाद माल्या नवंबर और दिसंबर में दो बार विदेश गया और लौट भी आया। इन लुकआउट नोटिसों के बाद भी माल्या तीन बार सीबीआई के सामने पेश हुआ था। सूत्रों के मुताबिक अपनी पहली दो विदेश यात्राओं के दौरान माल्या ने सीबीआई को यह बताया था कि वह बिजनेस मीटिंग के लिए विदेश जाता है लेकिन तीसरी बार सीबीआई को माल्या की यात्रा की जानकारी भी नहीं मिली और उसके बाद वह ऐसा फरार हुआ कि आज सभी एजेंसियों के उसे भारत लाने में पसीने छूट रहे हैं।

Show more
content-cover-image
मोदी की सरकार ने इस तरह बचाया माल्या को मुख्य खबरें