content-cover-image

UP : 'राशन घोटाले' में STF ने शुरू की कार्रवाई

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

UP : 'राशन घोटाले' में STF ने शुरू की कार्रवाई

उत्तर प्रदेश के खाद्य एवं रसद विभाग के बायोमैट्रिक राशन वितरण प्रणाली में सेंध लगाकर और आधार संख्या बदलकर करोड़ों रुपये के राशन घोटाला मामले में एसटीएफ ने पहली कार्रवाई की है. पूरे सूबे में करीब 1000 केंद्रों पर ऐसे घोटाले किए गए. पीओएस मशीन के डेटा में छेड़छाड़ की गई, खाद्यान्न विभाग के डेटा फीडिंग सिस्टम का दुरुपयोग किया गया और पासवर्ड ID पता लगाकर दूसरों के नाम के राशन चुराए गए. यूपी एसटीएफ ने इस पूरे घोटाले का भंडाफोड़ किया है. अभी तक करीब 20 करोड़ रुपये के अनाज का फर्जीवाड़ा सामने आया है. यूपी एसटीएफ ने खाद्यान्न घोटाले में तीन घोटालेबाजों को पकड़ा है. इन आरोपियों की पहचान मोहम्मद आमिर, मोहम्मद अल्तमश और पुष्पेंद्र पाल के रूप में हुई है. पुष्पेंद्र पाल को इस घोटाले का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है. ये आरोपी कोटेदार और कंप्यूटर ऑपरेटर हैं. इन्होंने अंगूठा लगाकर आधार कार्ड का बेजा इस्तेमाल किया. राज्य सरकार को इस घोटाले का तब पता चला, जब कई जिलों से बड़ी संख्या में लोगों को राशन न मिलने की शिकायतें सामने आईं. इसके बाद योगी आदित्यनाथ सरकार ने मामले में एफआईआर दर्ज कराई थी और मामले की जांच के आदेश दिए थे.

Show more
content-cover-image
UP : 'राशन घोटाले' में STF ने शुरू की कार्रवाईमुख्य खबरें