content-cover-image
मोलेस्टेशन केस वापस चाहते हैं नेस वाडिया, प्रीति जिंटा की तरफ से ना

बॉलीवुड के किस्से

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मोलेस्टेशन केस वापस चाहते हैं नेस वाडिया, प्रीति जिंटा की तरफ से ना

प्रीति जिंटा और नेस वाडिया का केस कोर्ट में साल 2014 से ही चल रहा है. प्रीति ने नेस पर आरोप लगाया था कि 2014 के एक आईपीएल मैच के दौरान प्रताड़ित करने का आरोप लगया था. नेस इस केस में बेल पर छूटे हुए हैं. साथ ही वे प्रीति से अपना मुकदमा खारिज करने की अपील भी कर चुके हैं. ताजा सुनवाई में उन्हें निराशा हाथ लगी है क्योंकि प्रीति ने मुकदमा खारिज करने वाली पेटेशन पर अभी मंजूरी देने में और वक्त मांगा है. 13 जून 2014 को प्रीति जिंटा ने अपने बिजनेसमैन एक्स ब्वॉयफ्रेंड और उनके साथ किंग्स एलेविन पंजाब के सह मालिक नेस वाडिया पर बदतमीजी करने और धमकाने का आरोप लगाया था. ये मैच किंग्स इलेवन पंजाब और चिन्नेई सुपर किंग्स के बीच था. मामले के 4 साल बाद मुंबई पुलिस ने साल 2018 फरवरी में चार्जशीट फाइल की. नेस वाडिया फिलहाल बेल पर छूटे हुए हैं. बेल की कंडीशन के मुताबिक उन्हें देश से बाहर कदम रखने पर हर बार कोर्ट की अनुमति लेनी पड़ेगी. नेस द्वारा आरोप वापस लेने वाली विनती पर प्रीति के वकील की ओर से तीन हफ्तों का वक्त मांगा गया था. मगर अभी तक प्रीति की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है. देश से बाहर जाने में बार-बार बाधा होने के चलते नेस की तरफ से फिर से केस को वापस लेने की मांग की गई. मगर इस बार भी नेस को निराशा हाथ लगी है. प्रीति की टीम के मुताबिक अभी इस बात को लेकर दोनों टीम के बीच कुछ डिस्कशन चल रहा है. इस मामले में अभी कोई खास हल नहीं निकल पाया है. इसलिए कोई भी फैसला लेने में प्रीति की टीम को और वक्त लगेगा.

Show more
content-cover-image
मोलेस्टेशन केस वापस चाहते हैं नेस वाडिया, प्रीति जिंटा की तरफ से नाबॉलीवुड के किस्से