content-cover-image

राफेल पर इंडियन एयरफोर्स की पहली उड़ान

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

राफेल पर इंडियन एयरफोर्स की पहली उड़ान

राफेल विमान सौदे पर देश में मचे सियासी घमासान के बीच वायुसेना के डिप्टी चीफ एयर मार्शल रघुनाथ नांबियार ने फ्रांस में पहली भारतीय राफेल काम्बैट एयरक्रॉफ्ट पर उड़ान भरी। अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस लड़ाकू विमान की पहली खेप अगले साल सितंबर में भारत आयेगी । नांबियार ने फ्रांस के इसट्रेस एयर बेस से विमान के कॉकपिट में बैठकर इसका जायजा लिया। विमान ने करीब एक घंटे तक उड़ान भरी। भारतीय वायुसेना की 6 सदस्यीय टीम फ्रांस पहुंची हुई है और डासॉल्ट मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट का दौरा कर रही है। राफेल की खासियत ये है कि यह कई तरह के रोल निभा सकता है। हवा से हवा में और हवा से जमीन पर भी आक्रमण करने में सक्षम है। इसके अलावा इसमें परमाणु बम गिराने की भी ताकत है। इसमें खास इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सिस्टम भी लगा है जिसके जरिए दुश्मनों को लोकेट किया जा सकता है, उनके रडार को जाम भी कर सकते हैं। अगले 67 महीनों में फ्रांस 36 राफेल विमान भारत को देगा जिसकी शुरुआत अगले साल सितंबर से होगी।

Show more

content-cover-image
राफेल पर इंडियन एयरफोर्स की पहली उड़ानमुख्य खबरें