content-cover-image

अब AAP करेगी ‘चाय पर चर्चा’

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

अब AAP करेगी ‘चाय पर चर्चा’

अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में दमदार उपस्थिति दर्ज कराने के लिए कमर कस चुकी आम आदमी पार्टी (AAP) ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मतदाताओं तक पहुंचने के लिए ‘चाय पे चर्चा’ का रास्ता अपनाया है. ‘चाय पे चर्चा’ 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले सुर्खियों में आई थी, जब बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने देशभर में मतदाताओं से संवाद करने के लिए यह तरीका अपनाया था. अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली AAP ने कहा कि उसने भगवा पार्टी से यह अवधारणा उधार नहीं ली है. पूर्वोत्तर दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र के आप प्रभारी दिलीप पांडे ने कहा, ‘‘हम ‘आम आदमी’ तक पहुंचने के लिए 2012 की सर्दियों से ही ‘चाय पे चर्चा’ कर रहे हैं.’’ पांडे ने कहा कि आप ने उनके निर्वाचन क्षेत्र में अब तक 300 ‘चाय पे चर्चा’ बैठकें की है. पार्टी सूत्रों ने कहा कि फरवरी, 2014 में अहमदाबाद में हुई मोदी की चाय पे चर्चा, जो वीडियो कांफ्रेंसिंग और टेलीविजन चैनलों के माध्यम से पूरे देश में दिखायी गयी थी, के विपरीत AAP की बैठकें ‘ज्यादा करीब और सीधी’ होती हैं, जहां स्थानीय मुद्दे और राजनीतिक विषय चर्चा के केंद्र में होते हैं.

Show more

content-cover-image
अब AAP करेगी ‘चाय पर चर्चा’मुख्य खबरें