content-cover-image

किसान नेता बोले, सरकार ने वित्तीय मांगों को नहीं माना

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

किसान नेता बोले, सरकार ने वित्तीय मांगों को नहीं माना

किसान आंदोलन को लेकर भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता युद्धवीर सिंह ने कहा कि सरकार के साथ 11 प्वाइंट्स पर बातचीत हुई. सरकार ने हमारी 7 मांगे मान ली, लेकिन 4 मांगों को लेकर अभी तक ठोस आश्वासन नहीं मिले हैं. सरकार की तरफ से कहा गया है कि बाकी के चार मांगों को लेकर विचार करने के लिए वक्त चाहिए. बता दें, जिन चार मांगों को लेकर सहमति नहीं बन पाई है वे सभी वित्तीय भुगतान से जुड़े हैं. युद्धवीर सिंह ने कहा कि C2+50 की प्रमुख मांगें अभी तक नहीं मानी गई हैं. इसी वजह से सरकार के आश्वासन से किसान संतुष्ट नहीं हैं. उन्होंने कहा कि कृषि कर्ज माफ करने को लेकर भी सरकार का स्टैंड क्लियर नहीं है. सरकार का कहना है कि इन मामलों पर गंभीरता से चर्चा के लिए उन्हें वक्त चाहिए.

Show more

content-cover-image
किसान नेता बोले, सरकार ने वित्तीय मांगों को नहीं मानामुख्य खबरें