content-cover-image

सनातन संस्था पर स्टिंग, सरकार पर दबाव

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

सनातन संस्था पर स्टिंग, सरकार पर दबाव

महाराष्ट्र के थिएटरों के बाहर 2008 में बम धमाकों को लेकर सनातन संस्था आरोपों के घेरे में है. इस संस्था के दो साधकों के हैरान करने वाले कबूलनामे सामने आने के बाद सनातन संस्था के खिलाफ फिर से जांच की मांग तेज हो गई है. इन खुलासों के बाद महाराष्ट्र के गृह राज्य मंत्री दीपक केसरकर ने कहा है कि सरकार नए सबूतों की जांच करेगी और इस संबंध में जरूरी जांच की जाएगी. बता दें कि बॉम्बे हाई कोर्ट में पिछले 10 सालों से इस मामले के केस पेंडिंग हैं. खुलासे के बाद महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने सनातन संस्था पर तत्काल प्रभाव से बैन लगाने की मांग की है. वहीं, सनातन संस्था ने अपनी गतिविधियों का बचाव करने की कोशिश की है. सनातन संस्था की सहयोगी हिन्दू जनजागृति समिति के प्रवक्ता रमेश शिन्दे ने साधक के कबूलनामे से जुड़े टेप्स को ही 'छेड़छाड़ से तैयार किया' बताया है. इस संस्था को 2008 में महाराष्ट्र में थिएटर्स और सिनेमाहालों के बाहर बम धमाकों के आरोप में महाराष्ट्र ATS ने चार्जशीट में नामजद किया. आरोप है कि सनातन संस्था ने कुछ फिल्मों और नाटकों में जिस तरह से हिन्दुत्व की छवि पेश की जा रही थी, उसे आपत्तिजनक मानते हुए कथित तौर पर ये धमाके किए. बीते कई साल से सनातन संस्था जोर देकर अपने खिलाफ सभी आरोपों को खारिज करती रही है. हालांकि, नए खुलासों के बाद इस संस्था की मश्किलें बढ़ सकती हैं.

Show more
content-cover-image
सनातन संस्था पर स्टिंग, सरकार पर दबाव मुख्य खबरें