content-cover-image
इलाहाबाद अब हुआ प्रयागराज

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

इलाहाबाद अब हुआ प्रयागराज

उत्तर प्रदेश सरकार ने संगम नगरी इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने के एक प्रस्ताव को मंगलवार को मंजूरी दे दी। कैबिनेट की बैठक के बाद मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, 'इलाहबाद आज से प्रयागराज के नाम से जाना जाएगाी। स्थानीय लोग और संत समुदाय लंबे समय से इस शहर का नाम बदलकर प्रयागराज करने की मांग कर रहा था। योगी सरकार ने भी कुछ दिनों पहले कहा कि वह इस शहर का नाम बदलकर प्रयागराज करने के बारे में विचार कर रही है। इसी के साथ ही राज्य में नाम बदलने की राजनीति में एक और नया अध्याय जुड़ गया। शहर का नाम बदलने के साथ ही इलाहाबाद हाईकोर्ट, इलाहाबाद यूनिवर्सिटी का नाम भी बदल जाएगा। गौरतलब है कि अगले साल होने वाले कुंभ से पहले इलाहाबाद चर्चा का केंद्र बना हुआ है। योगी सरकार कुंभ को लेकर बड़े पैमाने पर तैयारी कर रही है, शहर में जीर्णोद्धार का काम युद्ध स्तर पर जारी है। अभी कुछ समय पहले ही योगी सरकार ने ऐतिहासिक मुगलसराय स्टेशन का नाम बदल कर दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर रख दिया था और अब शहर का नाम ही बदला गया है। इनके अलावा भी कई योजनाओं और स्थानों का नाम बदला जा चुका है। दरअसल, पुराणों में इलाहाबाद का नाम प्रयागराज ही था लेकिन अकबर के शासनकाल में इसे बदलकर इलाहाबाद कर दिया गया था। इतिहासकार बताते हैं कि अकबरनामा और आईने अकबरी व अन्य मुगलकालीन ऐतिहासिक पुस्तकों से पता चलता है कि अकबर ने सन 1574 के आसपास प्रयागराज में किले की नींव रखी थी।

Show more
content-cover-image
इलाहाबाद अब हुआ प्रयागराज मुख्य खबरें