content-cover-image

Jammu & Kashmir Regional News 11th August

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Jammu & Kashmir Regional News 11th August

म्मू-कश्मीर (और लद्दाख इस वर्ष 31 अक्टूबर को अलग-अलग केन्द्र शासित प्रदेश ( ) के रूप में अस्तित्व में आ जाएंगे। राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद केंद्र सरकार (ने इस संबंध में घोषणा करते हुए कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख 31 अक्टूबर को केंद्र शासित प्रदेश ( ) के रूप में अस्तित्व में आ जाएंगे। अविभाजित जम्मू-कश्मीर अब तक राज्य की हैसियत से था, लेकिन अब उसे केंद्र शासित प्रदेश के रूप में रहना पड़ेगा। जबकि जम्मू-कश्मीर से अलग किए गए लद्दाख को करगिल के साथ मिलाकर केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया है। दूसरी ओर, राज्य का दर्जा खत्म किए जाने के बाद मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में भारी सुरक्षा व्यवस्था लगा रखी है और कई क्षेत्रों में कफ्र्यू और धारा 144 लगा हुआ है। हालांकि शुक्रवार को जम्मू से धारा 144 हटा ली गई, जबकि कश्मीर में अभी भी यह व्यवस्था कायम है। सेना () की उत्तरी कमान के कमांडर, लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने शुक्रवार को कहा कि दुश्मन ने अगर किसी भी प्रकार के दुस्साहस करने की कोशिश की तो उसे करारा जवाब मिलेगा। जनरल सिंह ने यह बात लद्दाख ( ) क्षेत्र में अपनी यात्रा के दौरान सैनिकों के साथ बातचीत करते हुए कही। सेना कमांडर लद्दाख में तैयारियों की समीक्षा करने गए थे। उत्तरी कमान के रक्षा प्रवक्ता, लेफ्टिनेंट कर्नल अभिनव नवनीत के अनुसार, जनरल सिंह को लेफ्टिनेंट जनरल योगेश कुमार जोशी, जीओसी 14 कोर द्वारा लदाख सेक्टर में किसी भी खतरे यही स्थिति से निपटने के लिए ऑपरेशनल तैयारियों पर जानकारी दी गई। प्रवक्ता ने कहा कि ऑपरेशनल तैयारियों के उच्च स्तर की सराहना करते हुए, लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि उनके मन में कोई संदेह नहीं था कि दुश्मन द्वारा किए गए किसी भी दुस्साहस का करारा जवाब मिलेगा

Show more
content-cover-image
Jammu & Kashmir Regional News 11th Augustमुख्य खबरें