content-cover-image

Ayodhya Case: इमारत को नहीं कह सकते मस्ज़िद

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Ayodhya Case: इमारत को नहीं कह सकते मस्ज़िद

अयोध्या मामले की 15वें दिन की सुनवाई में रामजन्मभूमि पुनरुद्धार समिति की ओर से पेश वकील पीएन मिश्रा ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि जन्मस्थान पर इमारत थी, लेकिन उसे मस्ज़िद नहीं कह सकते. दूसरे धर्म के पूजास्थल को गिराकर बनी इमारत शरीयत के हिसाब से मस्ज़िद नहीं हो सकती और उस इमारत में मस्ज़िद के लिए ज़रूरी तत्व भी नहीं थे. उन्‍हाेंने कहा कि मस्ज़िद हमेशा मस्ज़िद रहेगी, ये ज़रूरी नहीं है. पैगंबर मोहम्मद ने कहा था कि किसी का घर तोड़ कर वहां मस्जिद नहीं बनाई जा सकती. अगर ऐसा किया गया तो जगह वापस उसके हकदार को दे दी जाए. ये एक तरह से उनका वचन था. उनके अनुयायियों पर भी ये वचन लागू होता है. बुधवार को 14वें दिन की सुनवाई में रामजन्मभूमि पुनरुद्धार समिति ने बहस करते हुए कहा था कि विवादित इमारत बनवाने वाला कौन था, इस पर संदेह है. मीर बाकी नाम का बाबर का कोई सेनापति था ही नहीं. 3 गुंबद वाली वो इमारत मस्ज़िद नहीं थी. मस्ज़िद में जिस तरह की चीज़ें ज़रूरी होती हैं, वो उसमें नहीं थी.

Show more
content-cover-image
Ayodhya Case: इमारत को नहीं कह सकते मस्ज़िद मुख्य खबरें