content-cover-image

Special: Pakistan की जाल में फंस गए Rahul...

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Special: Pakistan की जाल में फंस गए Rahul...

कश्मीर के मसले पर पूरी दुनियां में अलग थलग पड गए पाकिस्तान का बस एक ही सहारा कांग्रेस नेता राहुल गांधी थे । या यों कहें के पूरी कांग्रेस पार्टी । पाकिस्तान की भाषा कश्मीर के सवाल पर कांग्रेस से पूरी मेल खाती थी । लेकिन 50 साल का ये अपरिपक्व भोला भाला बालक इस बात को नहीं समझ पा रहा था कि वो कैसे धीरे धीरे पाकिस्तान की जाल में फंसता जा रहा है । राहुल को होश तब आया जब पाकिस्तान ने उनके बयान को टैग कर यूएनओ में भारत पर कश्मीर को लेकर हमला किया । पाकिस्तान ने यूएनओ में कहा कि कश्मीर में हालात चिंताजनक हैं और लोगों की हत्यायें की जा रही हैं । इसके लिए उसने राहुल गांधी के बयान का हवाला दिया और कहा कि कश्मीर से मिली रिर्पोट और भारत की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के नेताओं के बयान इसकी पुष्टि करते हैं । पाकिस्तान ने जब यूएनओ में रिर्पोट सौंपी तब तक शायद देर हो चुकी थी । राहुल को तब पता चला कि उनका पाकिस्तान प्रेम उन पर और पार्टी पर किस तरह भारी पड गया है । राहुल ने कहा कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और वहां हिंसा के लिए पाकिस्तान जिम्मेवार है । इसमें किसी दूसरे देश को बोलने की इजाजत नहीं दी जा सकती । कांग्रेस के नेता कश्मीर के सवाल पर हमेशा पाकिस्तान को समर्थन देने वाली भाषा में बात करते रहे हैं । आईएनएक्स मीडिया के मामले में जेल में बंद बंद पी चिदंबरम का कहना था कि कश्मीर चूकि मुस्लिम बहुल आबादी वाला राज्य इसलिए बीजेपी सरकार ने वहां से 370 और 35 ए हटाया तो मणिशंकर बोले कि देश के उत्तरी राज्य में एक और फीलीस्तीन पैदा हो गया है । मसलन कश्मीर के सवाल पर कांग्रेस पूरी तरह पाकिस्तान के साथ खडी दिखाई दे रही थी । कश्मीर के सवाल पर राहुल समेत पूरी कांग्रेस पार्टी की देश में आलोचना हो रही थी । पार्टी के कुछ बडे नेता भी राहुल का इस सवाल पर विरोध कर रहे थे । कांग्रेस नेताओं को लग रहा था कि राहुल पार्टी की जड में अपनी हरकतों से एसिड डाल रहे हैं ।राहुल भी समझ रहे हैं कि कश्मीर के सवाल पर वो पार्टी में ही अलग थलग पडते जा रहे हैं । मुखर रूप से भले न सही लेकिन उनका विरोध शुरू हो गया है । शशि थूरूर और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तो राहुल को सही समय पर आईना दिखा दिया था । अब राहुल के सामने एक ही रास्ता कि वो अपनी गलती सुधारें और देश के मिजाज को समझें। इसके लिए इंडिया को नहीं भारत को समझने की जरूरत है ।

Show more

content-cover-image
Special: Pakistan की जाल में फंस गए Rahul...मुख्य खबरें