content-cover-image

Kashmir घाटी में उर्दू बोलते नज़र आएंगे भगवान राम

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Kashmir घाटी में उर्दू बोलते नज़र आएंगे भगवान राम

लोकप्रिय गीत ‘सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा’ लिखनेवाले उर्दू के मशहूर शायर अल्लामा इकबाल भी भगवान राम को ‘इमाम-ए-हिंद’ कहते हैं और लिखते हैं- है राम के वजूद पे हिन्दोस्तां को नाज, अहले नजर समझते हैं उसको इमामे हिंद। इकबाल के ‘इमाम-ए-हिन्द’ भगवान राम अब उर्दू में नाट्य मंचन के जरिये कश्मीर घाटी में लोगों को शांति का सन्देश देंगे। अनुच्छेद 370 की समाप्ति के बाद के बाद से वहां हालात तनावपूर्ण लेकिन काबू में हैं। मोहम्मद अलीम ने बताया कि यह पुस्तक उर्दू भाषा में नाट्य शैली में लिखी गई है। शेक्सपिरियन स्टाइल में उर्दू में लिखी राम से जुड़ी इस तरह की यह पहली साहित्यिक कोशिश है। इसमें वाल्मीकि रामायण से लेकर आज तक के राम से जुड़े सभी प्रमुख ग्रंथों के तथ्य जुटाए गये हैं। इस पुस्तक में उर्दू के कवियों के लिखे राम गीतों को भी शामिल किया गया है। इनमें द्वारका प्रसाद, ब्रज नारायण और अल्लामा इकबाल शामिल हैं। इस तरह यह एक गायन नाट्य कला से मिश्रित मंचन होगा, जो आम लोगों की जुबान में होगा जिससे इसके भाव सीधे लोगों तक पहुंच सकें।

Show more
content-cover-image
Kashmir घाटी में उर्दू बोलते नज़र आएंगे भगवान राममुख्य खबरें