content-cover-image

कहां भटक गया विक्रम लैंडर? ISRO ने शुरू की पड़ताल

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

कहां भटक गया विक्रम लैंडर? ISRO ने शुरू की पड़ताल

इसरो के वैज्ञानिक अब इस बात बात की जांच कर रहे हैं कि विक्रम लैंडर की लैंडिंग में गड़बड़ी कहां हुई, कैसे हुई और क्यों हुई? इसके लिए इसरो के वैज्ञानिकों ने लंबा-चौड़ा डाटा खंगालना शुरू कर दिया है. इसरो के वैज्ञानिक इस सवाल का जवाब तलाशने के लिए विक्रम लैंडर के टेलिमेट्रिक डाटा, सिग्नल, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर, लिक्विड इंजन का विस्तारपूर्वक अध्ययन कर रहे हैं. विक्रम की लैंडिंग आखिरी पलों में गड़बड़ हुई. ये दिक्कत तब शुरू हुई जब विक्रम लैंडर चांद की सतह से मात्र 2.1 किलोमीटर ऊपर था. अब वैज्ञानिक विक्रम लैंडर के उतरने के रास्ते (Telemetric data of descent trajectory) का विश्लेषण कर रहे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक हर सब-सिस्टम के परफॉर्मेंस डाटा में कुछ राज छिपा हो सकता है. यहां लिक्विड इंजन का जिक्र बेहद अहम है. विक्रम लैंडर की लैंडिंग में इसका अहम रोल रहा है. इसरो के वैज्ञानिक इस बात की लगातार कोशिश कर रहे हैं कि लैंडर से संपर्क स्थापित किया जा सके. वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर विक्रम ने क्रैश लैंड किया है तो उसके उपकरणों को नुकसान पहुंचा हुआ होगा, लेकिन अगर ऑर्बिटर के जरिए सही दिशा में लैंडर से संपर्क करने की कोशिश की जाए तो संपर्क स्थापित हो सकता है.

Show more
content-cover-image
कहां भटक गया विक्रम लैंडर? ISRO ने शुरू की पड़तालमुख्य खबरें