content-cover-image

Spl : 9/11 की बरसी : वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमले की कहानी

Khabri Editorials & Interviews

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Spl : 9/11 की बरसी : वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमले की कहानी

11 सितंबर 2001 की सुबह. अमेरिका में हर दिनों की तरह यह सुबह भी सामान्य थी. नौकरीपेशा लोग दफ्तरों के लिए निकल चुके थे. दुनिया की सबसे ऊंची इमारतों में शुमार वर्ल्ड ट्रेंड सेंटर में भी करीब 18 हजार कर्मचारी रोजमर्रा का काम निपटाने में जुटे थे. मगर आठ बजकर 46 मिनट पर कुछ ऐसा हुआ कि अब तक सामान्य सी मालुम पड़ रही यह सुबह भयावह हो उठी. मंजर देख लोग कांप उठे. उस दिन जो हुआ, उसे किसी ने सपने में भी नहीं सोचा था कि सुपरपॉवर अमेरिका को भी आतंकी चुनौती देने की हिमाकत करेंगे. मगर आतंकियों ने दुस्साहस की हद पार कर दी. उस दिन 19 आतंकियों ने चार विमान हाईजैक किए और फिर वर्ल्ड ट्रेंड सेंटर से दो विमानों को भिड़ा दिया. पहला विमान वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के उत्तरी टावर से टकराया. पहले लोगों को लगा कि यह हादसा है, मगर कुछ ही देर बाद... 9 बजकर 3 मिनट पर एक और विमान दक्षिणी टावर से टकराया. इस दौरान हुए विस्फोट से टॉवर आग के गोले में बदल गया. तब जाकर लोगों को अहसास हुआ कि यह हादसा नहीं बल्कि बड़ा आतंकी हमला है. टॉवर में काम कर रहे कर्मियों में चीख-पुकार मच गई. आसपास के लोग बदहवास होकर जान बचाने के लिए दौड़ पड़े.

Show more
content-cover-image
Spl : 9/11 की बरसी : वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमले की कहानीKhabri Editorials & Interviews