content-cover-image

हिन्दू मेडिकल छात्रा केस- पुलिस की जांच में नहीं हुई कोई विशेष प्रगति

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

हिन्दू मेडिकल छात्रा केस- पुलिस की जांच में नहीं हुई कोई विशेष प्रगति

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के लरकाना में हिंदू मेडिकल छात्रा निमृता कुमारी की रहस्यमय हालात में हुई मौत के मामले में पुलिस की जांच में कोई विशेष प्रगति नहीं हुई है. पुलिस अपनी कार्रवाई में लगी हुई है और उसने निमृता के साथ हॉस्टल के कमरे में रहने वाली छात्रा का बयान दर्ज किया है. मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि निमृता के साथ हॉस्टल का कमरा साझा करने वाली छात्रा गीता का बयान पुलिस ने दर्ज किया है.गीता ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि 16 सितम्बर को हॉस्टल कमरे का दरवाजा तोड़ कर अंदर जाने पर निमृता का शव मिला था.उसके गले में दुपट्टे का फंदा लगा हुआ था. पुलिस को कमरे की जांच के दौरान बेड पर एक छोटी कैंची मिली थी.इस कैंची से जब फंदा नहीं कटा तो दांत की मदद से फंदा खोला गया. इस मामले में निमृता के दो सहपाठी महरान अबरो और दिलशान पुलिस हिरासत में हैं.इन तीनों को 13 सितम्बर के एक वीडियो में एक साथ देखा गया है जिसमें तीनों के बीच किसी बात पर तल्खी नजर आ रही है. बता दे की विश्वविद्यालय प्रशासन ने शुरू में मामले को खुदकुशी बताया.शुरुआती पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी इसकी तरफ संकेत किया गया लेकिन छात्रा के घरवालों का साफ कहना है कि यह आत्महत्या नहीं, हत्या का मामला है.

Show more
content-cover-image
हिन्दू मेडिकल छात्रा केस- पुलिस की जांच में नहीं हुई कोई विशेष प्रगति मुख्य खबरें