content-cover-image

Jharkhand Regional News 25th September

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Jharkhand Regional News 25th September

कोयला उद्याेग में 100% एफडीआई के विरोध में मंगलवार को 5 केंद्रीय श्रमिक संगठनों की हड़ताल असरदार रही। राज्य में उत्पादन व डिस्पैच नहीं हो सका। मजदूर संगठन एटक, इंटक, सीटू, एचएमएस और एक्टू का दावा है कि हड़ताल के कारण दो मिलियन टन (20 लाख टन) कोयले का उत्पादन नहीं हुआ।काेलियरियाें में रेललाइन जाम करने से कोल इंडिया की सभी अनुषंगी ईकाइयों के वाशरी प्लांटों से कोयला स्टील प्लांट नहीं भेजा जा सका। सीटू अध्यक्ष डीडी रामानंदन और कोलफील्ड मजदूर यूनियन के चंदेश्वर सिंह के अनुसार, हड़ताल से कोल इंडिया को 400 करोड़ रुपए की क्षति हुई। वहीं रेलवे काे डेमरेज के तौर पर 50 करोड़ रुपए देने होंगे। चईसी के एचएमबीपी में सीनियर डीजीएम रहे राम नमूना सिंह को कोर्ट ने जालसाजी अाैर धोखाधड़ी का दोषी माना है। सीबीआई के स्पेशल जज एके मिश्र की अदालत ने आठ साल पुराने मामले में मंगलवार को फैसला देते हुए राम नमूमा सिंह को साल चार के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है। इसी मामले में दोषी तीन ट्रांसपोर्टर धीरेंद्र मिश्रा उर्फ डब्ल्यू, कुमार गौरव मिश्रा उर्फ अनिल और अवनी कांत मिश्रा को भी चार-चार साल की जेल और 80-80 हजार रुपए के जुर्माना भरने की सजा सुनाई है। तीनों ट्रांसपोर्टर भाई हैं। जुर्माना राशि नहीं भरने पर चारों दोषियों को अलग से छह-छह माह जेल की सजा काटनी होगी। सीबीआई ने इनके खिलाफ आपसी मिलीभगत कर एचईसी को 26 लाख रुपए का नुकसान पहुंचाने से संबंधित केस दर्ज किया था।

Show more
content-cover-image
Jharkhand Regional News 25th Septemberमुख्य खबरें