content-cover-image

PMC Bank के प्रबंधन का घोटाला, खोले हज़ारों फ़र्ज़ी खाते

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

PMC Bank के प्रबंधन का घोटाला, खोले हज़ारों फ़र्ज़ी खाते

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक ने कर्ज की रकम की जानकारी दबाने के लिए 21 हजार फर्जी खाते खोले। बैंक के खिलाफ सोमवार को दर्ज एफआईआर में इस बात का पता चला। रिपोर्ट के मुताबिक बैंक प्रबंधन पर एनपीए की जानकारी छिपाने और नियमों के खिलाफ कर्ज बांटने के आरोप हैं। इससे पीएमसी को 4355 करोड़ रुपए का घाटा हुआ। एफआईआर के मुताबिक एक रिएलिटी ग्रुप और इसकी कंपनियों को पीएमसी ने 44 कर्ज दिए। बैंक प्रबंधन वित्तीय स्थिति अच्छी बताता रहा लेकिन, हकीकत कुछ और थी। एफआईआर में पीएमसी के चेयरमैन वरयम सिंह और निलंबित एमडी जॉय थॉमस समेत अन्य अधिकारियों के नाम हैं। इसमें दिवालिया कंपनी हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड और इसके पूर्व अफसरों सारंग वाधवान और राकेश वाधवान के भी नाम हैं। पीएमसी ने इन्हें लोन दिया था। अनियमितताओं की वजह से आरबीआई ने पिछले मंगलवार को पीएमसी बैंक पर 6 महीने का प्रतिबंध लगा दिया था। ग्राहकों के लिए विड्रॉल लिमिट 1000 रुपए तय कर दी गई। हालांकि, दो दिन बाद लिमिट बढ़ाकर 10 हजार रुपए कर दी थी। पीएमसी की 7 राज्यों में 137 शाखाएं हैं।

Show more
content-cover-image
PMC Bank के प्रबंधन का घोटाला, खोले हज़ारों फ़र्ज़ी खाते मुख्य खबरें