content-cover-image

अफ़सरों के उत्पीड़न के चलते जवान को छोड़नी पड़ी आर्मी?

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

अफ़सरों के उत्पीड़न के चलते जवान को छोड़नी पड़ी आर्मी?

सेना के जवान चंदू चव्हाण 2016 के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद अनजाने में पाकिस्तान चला गया था। चार महीने तक वहां हिरासत में रहने के बाद वह भारत लौट आया था। अब जवान ने अपने सीनियर अधिकारियों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। साथ ही सेना छोड़ने का फैसला किया है। वहीं, आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए भारतीय सेना ने इसे अनुशासनहीनता करार दिया। साथ ही कहा कि वह कई मामलों में आरोपी है। भारतीय सेना के सूत्रों ने शनिवार को कहा कि जवान के खिलाफ अनुशासनहीनता के 5 मामले चल रहे हैं। इसके अलावा, पिछले लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान धुले में प्रशासन से भी इसके खिलाफ शिकायत मिली थी। इसे मीडिया में भी दिखाया गया था। सूत्रों ने बताया कि अहमदनगर में बख्तरबंद कोर सेंटर में तैनात चव्हाण यूनिट लाइन में नशे में पाया गया था। अनुशासनात्मक कार्यवाही के दौरान ही चंदू यूनिट परिसर से फरार हो गया था। उसे 3 अक्टूबर से लापता घोषित किया गया है। चंदू की काउंसलिंग करने की भी कोशिश की गयी, लेकिन उसके रवैये के कारण कोई फायदा नहीं हुआ। सूत्रों ने यह भी स्पष्ट किया कि सेना में किसी भी परिस्थिति में इस तरह की अनुशासनहीनता को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

Show more
content-cover-image
अफ़सरों के उत्पीड़न के चलते जवान को छोड़नी पड़ी आर्मी?मुख्य खबरें