content-cover-image

New Delhi Regional News 13th October

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

New Delhi Regional News 13th October

पंजाब और हरियाणा से निकलने वाला पराली का धुआं अब दिल्ली पहुंचना शुरू हो गया है। शनिवार को करीब दो फीसदी धूल के महीन कण (पीएम 2.5) दिल्ली पहुंचे। उधर, पिछले एक हफ्ते से पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने के मामलों की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। हालांकि, पिछले कुछ साल की तुलना में अभी भी दिल्ली की आबोहवा बेहतर है। अक्तूबर के मध्य से इसके बेहद खराब स्तर तक पहुंचने का अनुमान है। सिस्टम फॉर एयर क्वॉलिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) का कहना है कि पुआल के धुएं का अब दिल्ली पर असर पड़ने लगा है। पश्चिम की तरफ आ रही हवाओं से प्रदूषक तत्व दिल्ली पहुंचने लगे हैं। हालांकि, ऊपरी सतह पर हवा धीमी होने से इसकी मात्रा ज्यादा नहीं है। उधर, सतह पर भी हवा धीमी-धीमी चल रही है। इससे प्रदूषक तत्व दिल्ली से बाहर फैल नहीं पा रहे हैं। दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी राजधानी में स्ट्रीट क्राइम कम होने के दावे करते हैं, लेकिन हकीकत कुछ और ही है। दिल्ली पुलिस के अपने आंकड़ों के मुताबिक, हर डेढ़ घंटे में एक व्यक्ति से झपटमारी होती है तो हर चार घंटे में एक लूट। सबसे अधिक वारदात मोबाइल, पर्स, चेन और कुंडल लूटने की होती हैं। हालांकि, दिल्ली पुलिस ने झपटमारी और लूटपाट रोकने के लिए हर जिले में एक प्रखर वैन को तैनात किया है, लेकिन इसका भी कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। आंकड़ों के मुताबिक, पिछले नौ माह में दिल्ली में 4762 लोगों के साथ झपटमारी हुई। यानी हर माह 529 लोग झपटमारी के शिकार होते हैं। रोज झपटमारी की 18 वारदात होती हैं। इसी तरह, पिछले नौ माह के दौरान 1558 लूट हुईं। हर माह 173 और रोज 6 लोगों से बदमाशों ने लूटपाट की। पुलिस आयुक्त राजधानी में स्ट्रीट क्राइम 20 फीसदी कम होने की बात करते हैं, लेकिन आंकड़े इसे झुठलाते हैं।

Show more
content-cover-image
New Delhi Regional News 13th Octoberमुख्य खबरें