content-cover-image

आज़ादी मार्चः Imran को मिल 2 दिन का अल्टिमेटम

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

आज़ादी मार्चः Imran को मिल 2 दिन का अल्टिमेटम

इमरान सरकार के इस्तीफे की मांग के साथ ‘आजादी मार्च’ का नेतृत्व करने वाले जमीयते उलेमाए इस्लाम-फजल के नेता फजलुर रहमान ने इस्लामाबाद में धरने का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान को इस्तीफे के लिए दो दिन का अल्टिमेटम दिया है। मौलाना फजल ने इस्लामाबाद के मेट्रो ग्राउंड पर विशाल सभा में कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान को इस्तीफा देने और ‘राष्ट्रीय प्रष्ठिानों’ द्वारा इस सरकार का समर्थन बंद करने के लिए वह दो दिन की मोहलत दे रहे हैं। इस सभा में पाकिस्तान के विपक्षी दलों के तमाम वरिष्ठ नेता भी हिस्सा ले रहे हैं। मौलाना ने कहा कि वह ‘राष्ट्रीय प्रतिष्ठानों’ के साथ टकराव नहीं बल्कि इनका स्थायित्व चाहते हैं। लेकिन, इसके साथ-साथ इन्हें निष्पक्ष भी देखना चाहते हैं। मौलाना ने कहा कि यह प्रदर्शन किसी एक दल का नहीं बल्कि पूरे राष्ट्र का है। सभी का यही कहना है कि आम चुनाव एक फ्रॉड था और आवाम धांधली का शिकार हुए थे। बहुत मोहलत दे दी, अब और नहीं दे सकते। इस सरकार को जाना होगा। देश यही चाहता है। उन्होंने कहा कि सरकार ने वादे के मुताबिक, पचास लाख घर बनाने के बजाए पचास लाख घर गिरा दिए। एक करोड़ नौकरियां देने के बजाए पच्चीस लाख लोगों को बेरोजगार कर दिया। आवाम को ऐसे अक्षम हुक्मरानों के रहमो-करम पर नहीं छोड़ा जा सकता।

Show more
content-cover-image
आज़ादी मार्चः Imran को मिल 2 दिन का अल्टिमेटममुख्य खबरें