content-cover-image

Chidambaram जज से बोले- तबियत खराब है ज़मानत दे दीजिए

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Chidambaram जज से बोले- तबियत खराब है ज़मानत दे दीजिए

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने दिल्ली उच्च न्यायालय से शुक्रवार को कहा कि पूर्व वित्तमंत्री पी.चिदंबरम को अस्पताल में रहने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि उनका स्वास्थ्य बेहतर है. मेहता ने यह बात चिदंबरम के स्वास्थ्य की जांच के लिए गठित चिकित्सा दल द्वारा दाखिल की गई एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कही. मेडिकल रिपोर्ट पर सज्ञान लेते हुए न्यायमूर्ति सुरेश कुमार कैत ने जेल अधिकारियों को चिकित्सकों के सुझाव के अनुसार चिदंबरम को जेल में स्वच्छ वातावरण, घर पर बने खाने की अनुमति व मिनरल वाटर व दूसरी सुविधाएं प्रदान करने का निर्देश दिया. एम्स मेडिकल बोर्ड ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि चिदंबरम को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि उनके प्रमुख अंग सामान्य रूप से काम कर रहे हैं. इसके बाद कोर्ट ने चिदंबरम द्वारा स्वास्थ्य आधार पर मांगी गई अंतरिम जमानत याचिका निष्पादित कर दी. वरिष्ठ कांग्रेस नेता चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया मामले में जेल में हैं.

Show more
content-cover-image
Chidambaram जज से बोले- तबियत खराब है ज़मानत दे दीजिएमुख्य खबरें