content-cover-image

मुक्त व्यापार समझौता RCEP में शामिल नहीं होगा भारत

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

मुक्त व्यापार समझौता RCEP में शामिल नहीं होगा भारत

भारत ने क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी यानि RCEP समझौते में शामिल नहीं होने का फैसला किया है. सूत्रों ने कहा है कि RCEP में भारत का रुख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजबूत नेतृत्व और दुनिया में भारत के बढ़ते कद को दर्शाता है. भारत के इस फैसले से भारतीय किसानों, सूक्ष्म, लघु और मझोले उपक्रमों और डेयरी क्षेत्र को बड़ी मदद मिलेगी. सूत्रों ने कहा कि इस मंच पर भारत का रुख काफी प्रैक्टिकल रहा है. भारत ने जहां गरीबों के हितों के संरक्षण की बात की वहीं देश के सेवा क्षेत्र को लाभ की स्थिति देने की भी कोशिश की है. RCEP में 10 एसोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशन्स देशों और उनके 6 फ्री ट्रेड एग्रीमेंट भागीदारों चीन, जापान, भारत, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड शामिल हैं. आरसीईपी करार का मकसद दुनिया का सबसे बड़ा मुक्त व्यापार क्षेत्र बनाना है. 16 देशों के इस समूह की आबादी 3.6 अरब है. यह दुनिया की करीब आधी आबादी है. खबर के मुताबिकग, भारत को छोड़कर RCEP समूह के सभी 15 देश क्षेत्र के इस व्यापार समझौते को अंतिम रूप देने को लेकर सहमत हैं.

Show more
content-cover-image
मुक्त व्यापार समझौता RCEP में शामिल नहीं होगा भारतमुख्य खबरें