content-cover-image

सड़क हादसों में पहले नंबर पर Tamil Nadu, UP में हुईं सबसे ज़्यादा मौतें

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

सड़क हादसों में पहले नंबर पर Tamil Nadu, UP में हुईं सबसे ज़्यादा मौतें

सड़क दुर्घटना कम करने के लिए सरकार के तमाम प्रयासों का सकारात्मक परिणाम आते नहीं दिखता है। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2017 के मुकाबले साल 2018 में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में 0.46 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इस दौरान सड़क दुर्घटना के दौरान होने वाली मृत्यु दर में भी 2.37 फीसदी की वृद्धि हुई है। मंत्रालय ने 'भारत में सड़क दुर्घटनाएं-2018' नाम से जारी रिपोर्ट में बताया है कि साल 2017 में कुल 464910 दुर्घटनाओं के मुकाबले साल 2018 में कुल 467044 सड़क दुर्घटनाएं हुईं। इस दौरान मृत्यु दर में भी लगभग 2.37 फीसदी की वृद्धि हुई है। रिपोर्ट यह भी बताती है कि साल 2010 तक दुर्घटनाओं, मौतों और घायलों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई थी। इसके बाद वर्ष दर वर्ष मामूली उतार-चढ़ाव के साथ वे कुछ हद तक स्थिर हो गए। इसके अलावा साल 2010 से 2018 तक की अवधि में दुर्घटनाओं के साथ-साथ दुर्घटनाओं की वार्षिक वृद्धि दर में भारी गिरावट आई और ऑटोमोबाइल क्षेत्र के विकास की अधिक दर के बावजूद, पिछले दशकों की तुलना में कम थी। सड़क दुर्घटना में हुई मौत में उपयोगकर्ता के लिहाज से देखें तो इसमें सबसे ज्यादा पैदल चलने वालों ने जान गंवाई। इनकी हिस्सेदारी 15 फीसदी रही। यदि दुनिया भर के अन्य देशों से तुलना करें तो कह सकते हैं कि भारतीय सड़कें दुनिया में बेहद असुरक्षित हैं।

Show more
content-cover-image
सड़क हादसों में पहले नंबर पर Tamil Nadu, UP में हुईं सबसे ज़्यादा मौतेंमुख्य खबरें