content-cover-image

Kartarpur के बाद Imran Khan से Khokhrapar-Munabao सीमा खोलने की मांग

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Kartarpur के बाद Imran Khan से Khokhrapar-Munabao सीमा खोलने की मांग

सिखों के लिए करतारपुर कॉरिडोर खोले जाने के बाद अब अमेरिका के एक समूह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से भारत के साथ खोखरापार-मुनाबाव बॉर्डर को फिर से खोलने की गुहार लगाई है. अमेरिका के एडवोकेसी समूह ने पाक प्रधानमंत्री से अनुरोध किया है कि इमरान खान लाखों मुस्लिम और हिंदू श्रद्धालुओं के लिए इस सीमा को फिर से खोलें. खोखरापार सीमा के खुलने से संत मोइनुद्दीन चिश्ती के लाखों अनुयायियों को अजमेर स्थित चिश्ती दरगाह पर जाने में सुविधा होगी. वॉइस ऑफ कराची ने कहा कि साथ ही यह रास्ता हिंदू तीर्थयात्रियों को पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के हिंगलाज मंदिर की यात्रा करने की भी अनुमति देगा. एडवोकेसी समूह मुहाजिरों का एक ग्रुप है जो उर्दू भाषी भारतीय मुसलमानों का प्रतिनिधित्व करता है और विभाजन के बाद पाकिस्तान जाकर बस गए थे. अपनी वेबसाइट पर कहता है कि यह पाकिस्तान के सबसे बड़े शहर, कराची की दुर्दशा के बारे में वैश्विक जागरुकता बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है. बता दें कि भारत के लाखों मुसलमान, जो पाकिस्तान के सिंध प्रांत के शहरी इलाकों में जाकर बस गए थे. उनमें से बड़ी संख्या में लोग अभी भी हजरत मोइनुद्दीन चिश्ती के प्रति गहरी श्रद्धा रखते हैं, और अजमेर स्थित चिश्ती की दरगाह की यात्रा करना चाहते हैं.

Show more
content-cover-image
Kartarpur के बाद Imran Khan से Khokhrapar-Munabao सीमा खोलने की मांग मुख्य खबरें