content-cover-image

London Bridge Attack: पहले भी आतंकवाद के लिए सज़ा काट चुका था हमलावर

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

London Bridge Attack: पहले भी आतंकवाद के लिए सज़ा काट चुका था हमलावर

ब्रिटेन के मशहूर लंदन ब्रिज के निकट शुक्रवार को हुई चाकूबाजी में शामिल संदिग्ध 2012 में भी आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्तत होने का दोषी पाया गया था। गौरतलब है कि ब्रिटेन के मशहूर लंदन ब्रिज के निकट शुक्रवार को हुई चाकूबाजी की घटना में दो लोग मारे गए थे। वहीं स्कॉटलैंड यार्ड ने फर्जी विस्फोटक जैकेट पहने एक पुरुष संदिग्ध को घटनास्थल पर मार गिराने की पुष्टि की थी। पुलिस ने संदिग्ध की पहचान 28 वर्षीय उस्मान खान के तौर पर की है। साथ ही उन्होंने कहा कि घटना में किसी और के शामिल होने की फिलहाल कोई आशंका नहीं है। स्कॉटलैंड यार्ड के हेड ऑफ काउंटर टेररिज्म पुलिसिंग के सहायक आयुक्त नील बसु ने बताया कि उसकी पहचान हो गई है। 2012 में उसे आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्तत होने का दोषी पाया गया था और दिसम्बर 2018 में ही उसे जेल से रिहा किया गया । वहीं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक बयान में कहा कि जांच जारी है। पुलिस पुष्टि कर सकती है कि यह एक आतंकवादी घटना है। ब्रिटेन के आतंकवाद रोधी अधिकारियों ने जांच अपने हाथ में ले ली है और घटना को आतंकवादी घटना घोषित कर दिया गया है। पुलिस ने ब्रिज की घेराबंदी कर रखी है। लंदन ब्रिज उन इलाकों में से एक है जहां जून 2017 में ISIS के आतंकी हमले में 11 लोगों की जान गई थी।

Show more
content-cover-image
London Bridge Attack: पहले भी आतंकवाद के लिए सज़ा काट चुका था हमलावरमुख्य खबरें