content-cover-image

Piyush Goyal ने सामाजिक दायित्वों को रेलवे पर बताया बोझ का ज़िम्मेदार

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Piyush Goyal ने सामाजिक दायित्वों को रेलवे पर बताया बोझ का ज़िम्मेदार

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने सातवें वेतन आयोग में बढ़े सैलरी और पेंशन समेत सामाजिक दायित्वों को रेलवे के बोझ का जिम्मेदार बताया है। नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक के मुताबिक भारतीय रेलवे की कमाई 10 साल पिछे चली गई है। पिछले वित्तीय वर्ष रेलवे का परिचालन अनुपात 100 रु कमाने के लिए लगभग 98 रु खर्च करने पड़े है। रेलमंत्री ने बुधवार को लोकसभा में लिखित जवाब में कहा कि सातवां वेतन आयोग लागू होने के बाद से रेलवे कर्मचारियों के वेतन और पेंशन पर 22 हजार करोड़ रुपये अतिरिक्त खर्च हो रहा है, जिसके वजह से वित्तीय असर पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सामाजिक दायित्वों के लिए कुछ ऐसे इलाकों नई लाइनों के निर्माण कर ट्रेन चलाई जा रही है जिससे नुकसान का सामना करना पड़ रहा है और इसमें फंड का बड़ा हिस्सा खर्च भी हो रहा है। रेलवे मंत्री ने कहा जब हम पूरे तस्वीर को देखते हैं तो सातवें वेतन आयोग से वेतन बढोतरी और सामाजिक दायित्व के तहत ट्रेनों को चलाने से परिचालन अनुपात एक साल में 15 पर्सेंट नीचे चला जाता है। रेलमंत्री ने कहा समय आ गया है कि हम सामाजिक दायित्वों पर खर्च और लाभकारी सेक्टर्स के लिए बजट को अलग करने की कोशिश करें।

Show more
content-cover-image
Piyush Goyal ने सामाजिक दायित्वों को रेलवे पर बताया बोझ का ज़िम्मेदारमुख्य खबरें