content-cover-image

Unnao बना UP का 'Rape Capital', 2019 में हुए 86 दुष्कर्म

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

Unnao बना UP का 'Rape Capital', 2019 में हुए 86 दुष्कर्म

करीब 90 फीसदी झुलसी उन्नाव में आग के हवाले की गई दुष्कर्म पीड़िता की शुक्रवार देर रात दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई. उत्तर प्रदेश का उन्नाव जिला प्रदेश के 'रेप कैपिटल' के रूप में उभरकर सामने आया है. इस वर्ष 2019 में जनवरी से लेकर नवंबर तक 86 दुष्कर्म के मामले सामने आए हैं. प्रदेश की राजधानी लखनऊ से 63 किलोमीटर दूर और कानपुर से करीब 25 किलोमीटर दूर स्थित उन्नाव की जनसंख्या 31 लाख है. खबरों के अनुसार, इसी दौरान जिले में महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न के 185 मामले भी सामने आए हैं. कुलदीप सिंह सेंगर दुष्कर्म मामले और गुरुवार को महिला को आग लगाने के मामले से इतर कुछ अन्य महत्वपूर्ण मामले भी हैं, जिसमें पुरवा में एक महिला के साथ हुए दुष्कर्म में प्राथमिकी इस साल एक नवंबर को लिखी गई. उन्नाव के असोहा, अजगैन, माखी और बांगरमऊ में दुष्कर्म और छेड़खानी के मामले दर्ज किए गए हैं. इनमें से अधिकतर मामलों में आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उन्हें या तो जमानत पर रिहा कर दिया गया, या फिर वे फरार चल रहे हैं. स्थानीय लोग राज्य में हो रहे इन मामलों के लिए पुलिस को दोष देते हैं. अजगैन के निवासी राघव राम शुक्ला ने कहा, "उन्नाव की पुलिस पूरी तरह से नेताओं के अनुसार काम करती है. जब तक उन्हें अपने आकाओं से इजाजत नहीं मिलती वे एक इंच तक नहीं हिलते हैं. इस रवैये से अपराधियों के हौसले बुलंद होते हैं."

Show more
content-cover-image
Unnao बना UP का 'Rape Capital', 2019 में हुए 86 दुष्कर्ममुख्य खबरें