content-cover-image

अर्थव्यवस्था को मज़बूती देने के लिए सरकार ने किए ये एलान

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

अर्थव्यवस्था को मज़बूती देने के लिए सरकार ने किए ये एलान

केंद्र सरकार ने सुस्त पड़ती अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए कई कदम उठाए हैं। साल 2019 में एक ओर जहां टैक्स से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण एलान हुए हैं, वहीं बैंकिग सेक्टर और रियल एस्टेट सेक्टर के लिए भी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कई अहम घोषणाएं की। आइए जानते हैं इन सबके बारे में। बैंकिंग सेक्टर के लिए राहत का एलान करते हुए वित्त मंत्री ने बैंकों के लिए 70,000 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई। इससे बैंकों के लिए पांच लाख करोड़ रुपये का लोन बांटना संभव हो गया। उन्होंने कहा था कि बैंक अपने एमसीएलआर में कटौती करेंगे ताकि रेपो रेट में कमी का फायदा ग्राहकों को मिल सके। दिसंबर माह में अबतक देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया और यूको बैंक ने एमसीएलआर में कटौती की। वित्त मंत्री ने बड़ा एलान करते हुए देश के 18 बैंकों में से छह सरकारी बैंकों को विलय कर दिया। पंजाब नेशनल बैंक में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक का विलय होगा। ये दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक होगा, जो पीएनबी से 1.5 गुना बड़ा होगा। वहीं केनरा बैंक का विलय सिंडिकेट बैंक में होगा, जो देश का चौथा सबसे बड़ा बैंक होगा। जबकि इलाहाबाद बैंक का विलय इंडियन बैंक में किया गया है। इसके अलावा यूनियन बैंक, आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक का विलय होगा, जो देश का पांचवां सबसे बड़ा सरकारी बैंक बनेगा।

Show more
content-cover-image
अर्थव्यवस्था को मज़बूती देने के लिए सरकार ने किए ये एलानमुख्य खबरें