content-cover-image

विदेश से प्याज़ आयत पर गिरे थोक भाव, गुस्साए किसानों का विरोध-प्रदर्शन

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

विदेश से प्याज़ आयत पर गिरे थोक भाव, गुस्साए किसानों का विरोध-प्रदर्शन

प्याज के बढ़े दामों पर संसद से लेकर सड़क तक राजनीतिक पार्टियां विरोध कर रही हैं. लेकिन इसको लेकर किसानों की राय अलग दिख रही है. प्याज के दाम नियंत्रण में लाने के लिए केंद्र सरकार के उठाए कदमों को लेकर किसानों ने नाराजगी जताई और विरोध-प्रदर्शन किया. दरअसल, एक तरफ प्याज के बढ़े दाम से ग्राहक परेशान हैं तो वहीं प्याज के स्टॉक की लिमिट घटना और प्याज आयात करने के फैसले से होलसेल मंडी में प्याज की आवक में इजाफा हुआ है. प्याज की बढ़ी आवक ने थोक बाजार में प्याज के दाम घटा दिए हैं. इसका सीधा नुकसान किसानों को हो रहा है. इसको लेकर प्याज उत्पादक किसानों ने नासिक की लासलगाव मंडी में प्रदर्शन किया. पिछले कुछ दिनों से आवक बढ़ने के बाद लासलगाव मंडी में प्याज का दाम का औसत मूल्य प्रति क्विंटल साढ़े 5 हजार रुपए नीचे आया था. पहले बारिश से किसानों का प्याज का नुकसान हुआ था और अब कहीं किसानों को दाम मिल रहे थे, लेकिन सरकार की सख्ती के बाद होलसेल मंडियों में प्याज की आवक बढ़ रही है. आवक बढ़ने से किसानों का मुनाफा कम हुआ है.

Show more
content-cover-image
विदेश से प्याज़ आयत पर गिरे थोक भाव, गुस्साए किसानों का विरोध-प्रदर्शनमुख्य खबरें