content-cover-image

11 दिन से अनशन पर बैठी Maliwal से मिल रो पड़े Nirbhaya के माता-पिता

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

11 दिन से अनशन पर बैठी Maliwal से मिल रो पड़े Nirbhaya के माता-पिता

इसे विडंबना कहें या कुछ और कि देश में दुष्कर्म और दरिंदगी करने वाले जो दोषी तत्काल फांसी पर लटका दिये जाने चाहिये, वह आए दिन नए-नए कानून का हवाला देकर अब तक बचते जा रहे हैं। मेरी बेटी को उन दरिंदों ने मार डाला। मैं भी देखती हूं कब तक फांसी पर नहीं चढ़ते। यह कहना है निर्भया की मां का। वह शुक्रवार को राजघाट स्थित समता स्थल पर आमरण अनशन कर रही दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से मिलने पहुंचीं। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर स्वाति मालीवाल पिछले 11 दिनों से आमरण अनशन पर हैं। उन्होंने स्वाति मालीवाल से कहा कि इस देश की हर बेटी को उनकी जरूरत है। अब तक वह बेटियों के लिए लड़ रही थीं, आगे भी लड़ेंगी लेकिन अनशन स्थल पर सरकार का कोई नुमाइंदा न पहुंचना करोड़ों महिलाओं को ठेस पहुंचा रहा है। निर्भया की मां ने सरकार को पत्र भी लिखा है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार को इस मामले में मौन धारण करने को शर्मनाक बताया है। स्वाति मालीवाल तीन दिसंबर से आमरण अनशन पर हैं। उनकी मांग है कि दुष्कर्म मामलों में फास्ट ट्रैक कोर्ट के जरिए छह माह के भीतर ट्रायल पूरा कर दोषी को फांसी की सजा देने का प्रावधान होना चाहिए। आमरण अनशन की वजह से अब तक उनका वजन करीब 6.3 किलो कम हो चुका है। शुक्रवार को डॉक्टरों ने जब उनकी जांच की तो ब्लड प्रेशर 90/70 पाया गया। डॉक्टरों का कहना है कि स्वाति मालीवाल का ब्लड प्रेशर लगातार गिरता जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से अनशन तोड़ने की अपील की।

Show more
content-cover-image
11 दिन से अनशन पर बैठी Maliwal से मिल रो पड़े Nirbhaya के माता-पितामुख्य खबरें