content-cover-image

सजा के खिलाफ अपील के दौरान Musharraf का समर्थन करेगी पाकिस्तान सरकार

मुख्य खबरें

00:00

ट्रेंडिंग रेडियो

सजा के खिलाफ अपील के दौरान Musharraf का समर्थन करेगी पाकिस्तान सरकार

पाकिस्तान के पूर्व सैन्य तानाशाह परवेज मुशर्रफ को मौत की सजा सुनाये जाने के बाद पाकिस्तानी सेना के उनका सार्वजनिक रूप से समर्थन किये जाने के बीच प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार ने इस ‘‘अनुचित’’ फैसले के खिलाफ एक अपील की सुनवाई के दौरान सेवानिवृत्त जनरल का बचाव करने का निर्णय लिया है। पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ को देशद्रोह के मामले में यहां की एक विशेष अदालत ने मौत की सजा सुनाई थी। पाकिस्तान के उच्चतम न्यायालय द्वारा चिकित्सा इलाज के लिए उन्हें देश से बाहर जाने की अनुमति दिये जाने के बाद वह 2016 से दुबई में रह रहे हैं। विशेष अदालत की तीन सदस्यीय पीठ ने 76 वर्षीय मुशर्रफ को लंबे समय से चल रहे देशद्रोह के मामले में मौत की सजा सुनाई थी। उन पर संविधान को निष्प्रभावी बनाने और पाकिस्तान में नवम्बर 2007 में संविधानेतर आपातकाल लगाने का आरोप था। यह मामला 2013 से लंबित था। मुशर्रफ को सजा सुनाये जाने के बाद पाकिस्तान सेना ने कहा था कि पूर्व सैन्य प्रमुख जनरल (सेवानिवृत्त) मुशर्रफ कभी भी ‘‘देशद्रोही नहीं हो सकते’’ और उनके खिलाफ विशेष अदालत के फैसले से ‘‘पाकिस्तान की सशस्त्र सेना को काफी दुख हुआ है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पाकिस्तान की सशस्त्र सेना उम्मीद करती है कि पाकिस्तानी इस्लामी गणतंत्र के मुताबिक न्याय किया जाएगा।’’ पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार किसी सैन्य प्रमुख को देशद्रोही करार देकर मौत की सजा सुनाई गई है।

Show more

content-cover-image
सजा के खिलाफ अपील के दौरान Musharraf का समर्थन करेगी पाकिस्तान सरकारमुख्य खबरें